in

हायब्रिड कम्प्यूटर – Hybrid computer क्या है एवं कैसे काम करता है

Share

हायब्रिड कम्प्यूटर में एनालाग कम्प्यूटर एवं डिजिटल कम्प्यूटर के अवयवों का समावेश होता है । यह समावेश हमें प्राप्त होता है डिजिटल से एनालाग कन्वर्टर एवं एनालाग से डिजिटल कन्वर्टर से इसका अर्थ है कि हायब्रिड कम्प्यूटरों में एनालाग एवं डिजिटल दोनों ही कम्प्यूटरों के गुण होते हैं । हायब्रिड कम्प्यूटर का उपयोग एनालाग या डिजिटल दोनों ही प्रकार के डाटा को प्राप्त करने में किया जाता है ।

              हायब्रिड कम्प्यूटर कोई भी सतत परिवर्तनशील डाटा को इनपुट के रूप में प्राप्त कर उसे डिजिटल प्रोसेसिंग के लिए विभक्त मानों के समूह में परिवर्तित करता है । हायब्रिड कम्प्यूटर का मुख्य उद्देश्य कार्य करने वाले यूजर को दोनों ही प्रकार की गणना करने की विधियो (डिजिटल एवं एनालाग) में से श्रेष्ठ उपलब्ध कराना है ।

हायब्रिड कम्प्यूटर

               हायब्रिड कम्प्यूटर को दो तरीकों से प्राप्त कर सकते हैं – प्रथम डिजिटल कम्प्यूटर एवं एनालाग कम्प्यूटर को आंतरिक रूप से हायब्रिड इंटरफेस की सहायता से जोड़े या फिर एनालाग इकाई डिजिटल कम्प्यूटर के केन्द्रीय प्रोफेसर से सीधे जुड़ कर इनपुट एवं आउटपुट प्राप्त करने में मदद करें । डिजिटल यूनिट अपने में स्टोर किए गए निर्देशों की सहायता से एनालाग यूनिट को नियंत्रित करती है ।

उपयोग

         एनालाग कम्प्यूटर की सहायता से हार्टबीट को इसीजी द्वारा नापा जा सकता है । इसी मेजरमेन्ट को डिजिटल रूप में दर्शाया जा सकता है । इनका मुख्य उपयोग औद्योगिक प्रक्रियाओं में होता है जहाँ मशीन को चलाने वाला मशीन की योग्यता को पूर्ण प्रयुक्त करने के लिए सतत् एवं विभक्त दोनो ही प्रकार के डाटा का उपयोग करना आवश्यक समझता है ।

यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो please इसे जितना संभव हो उतना शेयर करें। आपकी यह मदद हमें और बेहतर करने के लिए उत्साहित करेगीं – Please Share

Share

Report

What do you think?

189 Points
Upvote Downvote

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

GIPHY App Key not set. Please check settings

एनालाग कम्प्यूटर – ये विशेष रूप से औद्योगिक क्षेत्रों के उपयोग के लिए हैं

Digital India – Government Yojana for promote e-governance